Skip to content
Home » स्वर्ण स्वर भारत | Swarn Swar Bharat lyrics

स्वर्ण स्वर भारत | Swarn Swar Bharat lyrics

स्वर्ण स्वर भारत | Swarn Swar Bharat lyrics :->song-Swarn Swarna Bharat Singers-Kailash Kher, Suresh Wadkar, Ravi Kishan, Kumar Vishwas Backing Vocals-Sanket Naik & Abhishek Mukherjee Lyricist & Composer-Kailash Kher

स्वर्ण स्वर भारत | Swarn Swar Bharat lyrics

है नया ओज है नया तेज
आरंभ हुआ नव चिंतन
विराट भारत विशाल भारत
कर रहा नवयुग का अभिनंदन

हर-हर में घर-घर में स्वर्ण स्वर भारत
हर-हर में घर-घर में स्वर्ण स्वर भारत

सतयुग त्रेता द्वापर के बाद
प्रारंभ हुआ परिवर्तन
सतयुग त्रेता द्वापर के बाद
प्रारंभ हुआ परिवर्तन
दिव्य अलौकिक अखंड भारत
कर रहा नवयुग का अभिनंदन
दिव्य अलौकिक अखंड भारत
कर रहा नवयुग का अभिनंदन

कण-कण में मन-मन में स्वर्ण स्वर भारत
कण-कण में मन-मन में स्वर्ण स्वर भारत

अंतरनाद बजा
जल थल नभ गूंज उठा
देवलोक में उत्सव से
ब्रम्हांड झूम उठा

कोश-कोश तृण-तृण हर जीवन
हो रहा नादब्रह्म से पावन

कोश-कोश तृण-तृण हर जीवन
हो रहा नादब्रह्म से पावन

दिव्य अलौकिक अखंड भारत
कर रहा नवयुग का अभिनंदन
BhaktiBharat Lyrics

हृदय-हृदय उदय-उदय स्वर्ण स्वर भारत
हृदय-हृदय उदय-उदय स्वर्ण स्वर भारत
हृदय-हृदय उदय-उदय स्वर्ण स्वर भारत
हृदय-हृदय उदय-उदय स्वर्ण स्वर भारत

चिंतन में मंथन में स्वर्ण स्वर भारत
चिंतन में मंथन में स्वर्ण स्वर भारत
चिंतन में मंथन में स्वर्ण स्वर भारत
चिंतन में मंथन में स्वर्ण स्वर भारत

हरयुग में नवयुग में स्वर्ण स्वर भारत
हरयुग में नवयुग में स्वर्ण स्वर भारत
हरयुग में नवयुग में स्वर्ण स्वर भारत
हरयुग में नवयुग में स्वर्ण स्वर भारत

Must read below

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *