Skip to content
Home » राम को देख कर श्री जनक | Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini lyrics

राम को देख कर श्री जनक | Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini lyrics

राम को देख कर श्री जनक | Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini lyrics :-> jai shri ram

⇨Song : Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini
⇨Singer : Prakash Gandhi
⇨Music : Gandhi Brothers (Prakash-Subhash Gandhi)
⇨Lyrics : Traditional
⇨Music Lable : Power Music Company
⇨Category : Devotional
⇨Sub Category : Bhajan
⇨Track Genre :Devotional

राम को देख कर श्री जनक | Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini lyrics

राम को देख कर के जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी-2
राम देखे सिया माँ सिया राम को
चारो अँखिआ लड़ी की लड़ी रह गयी|

थे जनक पुर गये देखने के लिए
सारी सखियाँ झरोखो से झाँकन लगे -2
देखते ही नजर मिल गयी प्रेम की
जो जहाँ थी खड़ी की खड़ी रह गयी|
|श्री राम को देख कर के श्री जनक नंदिनी…|

बोली एक सखी राम को देखकर
रच गयी है विधाता ने जोड़ी सुघर।
पर धनुष कैसे तोड़ेंगे वारे कुंवर
मन में शंका बनी की बनी रह गयी|
|श्री राम को देख कर के श्री जनक नंदिनी…|

बोली दूसरी सखी छोटन देखन में है
फिर चमत्कार इनका नहीं जानती।
एक ही बाण में ताड़िका राक्षसी
उठ सकी ना पड़ी की पड़ी रह गयी|
|श्री राम को देख कर के श्री जनक नंदिनी…|

राम को देख कर के जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी।
राम देखे सिया को सिया राम को
चारो अँखिआ लड़ी की लड़ी रह गयी|

Must read below

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *