Skip to content
Home » श्री पंचमुखी हनुमान | Shri Panchmukhi Hanuman

श्री पंचमुखी हनुमान | Shri Panchmukhi Hanuman

bhanjan

श्री पंचमुखी हनुमान | Shri Panchmukhi Hanuman :->श्री पंचमुखी हनुमान के पाँच मुख इस प्रकार हैं, उत्तर दिशा में वराह मुख, दक्षिण दिशा में नरसिंह मुख, पश्चिम में गरुड़ मुख, आकाश की तरफ हयग्रीव मुख एवं पूर्व दिशा में हनुमान मुख। इस रूप को धारण कर उन्होंने सभी पांचों दीप बुझाए तथा अहिरावण का वध कर श्री राम और लक्ष्मण को मुक्त कराया।

श्री पंचमुखी हनुमान | Shri Panchmukhi Hanuman

अहिरावण ने माँ भवानी के लिए पाँच दीपक जलाए थे, जिन्हें पांच दिशाओं मे पांच अलग-अलग जगहों पर रखा गया। इन पाँच दीपकों को एक साथ बुझाने पर ही अहिरावण का वध संभव था। अतः अहिरावण के वध हेतु हनुमान जी ने पंचमुखी रूप धारण किया।

Read Also- यह भी जानें

Leave a Reply

Your email address will not be published.