Skip to content
Home » महादेव शंकर हैं जग से निराले | Mahadev Shankar Hain Jag Se Nirale Lyrics

महादेव शंकर हैं जग से निराले | Mahadev Shankar Hain Jag Se Nirale Lyrics

Mahadev Shankar Hain Jag Se Nirale Lyrics :-> गुलशन कुमार जी ऐसे अद्भुत भजन इस संसार को देकर सदा के लिए अमर हो गए,आपको कोटि कोटि नमन..!! ॐ नमः शिवाय..!!

Mahadev Shankar Hain Jag Se Nirale Lyrics

महादेव शंकर हैं जग से निराले,
बड़े सीधे साधे बड़े भोले भाले ।
मेरे मन के मदिर में रहते हैं शिव जी,
यह मेरे नयन हैं उन्हीं के शिवालय ॥

बनालो उन्हें अपने जीवन की आशा,
सदा दूर तुमसे रहेगी निराशा ।
बिना मांगे वरदान तुमको मिलेगा,
समझते हैं वो तो हरेक मन की भाषा ॥
वो उनके हैं जो उनको अपना बनाले..॥

महादेव शंकर हैं जग से निराले,
बड़े सीधे साधे बड़े भोले भाले ॥

जिधर देखो शिव की है महिमा निराली,
ये दाता है और सारी दुनिया सवाली ।
जो इस द्वार पे अपना विशवास कर ले,
तो पल भर में भर जायेगी झोली खाली ॥
उनही के अँधेरे, उनही के उजाले..॥

महादेव शंकर हैं जग से निराले,
बड़े सीधे साधे बड़े भोले भाले ।
मेरे मन के मदिर में रहते हैं शिव जी,
यह मेरे नयन हैं उन्हीं के शिवालय ॥

Leave a Reply

Your email address will not be published.