Home » Aisa Damru Bajaya Bholenath Ne

Aisa Damru Bajaya Bholenath Ne

  • Bhajan
Aisa_Damru_Bajaya_Bholenath_Ne_Lyrics

Aisa Damru Bajaya Bholenath Ne Lyrics :->महा शिवरात्रि के शुभ अवसर पर , बाबा हंसराज रघुवंशी ने अपने फेंस के कहने पर भोले बाबा का गाना ” डमरू बजाया ” 24 घंटे से भी कम समय में तैयार किया|

Aisa Damru Bajaya Bholenath Ne

मैं हिमाचल की बेटी,
मेरा भोला बसे काशी,
सारी उमर तेरी सेवा करुँगी,
सारी उमर तेरी सेवा करुँगी,
बनकर तेरी दासी|

शिव शिव शिव शिव संभु,
शिव शिव शिव शिव संभु,

ऐसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
बम-बम, बम-बम,
ऐसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
बम-बम, बम-बम|

सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,

ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया|

डमरू को सुनकर जी कान्हा जी आए,
कान्हा जी आए संग राधा भी आए,
बम-बम, बम-बम,
डमरू को सुनकर जी कान्हा जी आए,
कान्हा जी आए संग राधा भी आए,
बम-बम, बम-बम|

वहाँ सखियों का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया|

ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया|

डमरू को सुनकर जी गणपति चले हैं,
डमरू को सुनकर जी गणपति चले,
गणपति चले संग कार्तिक चले,
गणपति चले संग कार्तिक चले|

महा अम्बे का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया|

डमरू को सुनकर जी रामा जी आए,
बम-बम, बम-बम,
डमरू को सुनकर जी रामा जी आए,
रामा जी आए संग लक्ष्मण जी आए|

मैया सिता का मन भी मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने|

ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया|

डमरू को सुनकर के ब्रम्हा चले,
यहाँ ब्रम्हा चले वहाँ विष्णु चले,
डमरू को सुनकर के ब्रम्हा चले,
यहाँ ब्रम्हा चले वहाँ विष्णु चले|

मैया लक्ष्मी का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,

ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,

डमरू को सुनकर जी गंगा चले,
गंगा चले वहाँ यमुना चले,
बम-बम, बम-बम,
डमरू को सुनकर जी गंगा चल,
गंगा चले वहाँ यमुना चले|

वहाँ सरयू का मन भी मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने|

डमरू को सुनकर जी सूरज चले,
सूरज चले वहाँ चंदा चले,
बम-बम, बम-बम,
डमरू को सुनकर जी सूरज चले,
सूरज चले वहाँ चंदा चले|

सारे तारों का मन भी मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,

ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,

Read Also- यह भी जानें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *