Skip to content
Home » आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं | Aarti Jag Janani Main Teri Gaon Lyrics

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं | Aarti Jag Janani Main Teri Gaon Lyrics

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं | Aarti Jag Janani Main Teri Gaon Lyrics :->मां भगवती का यह भजन भक्ति भावना को बढ़ाने वाला है और मां के श्री चरणों के प्रति प्रेम को पैदा  करने वाला है।

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं | Aarti Jag Janani Main Teri Gaon Lyrics

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

तुम बिन कौन सुने वरदाती
किस को जाकर विनय सुनाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

असुरों ने देवों को सताया
तुमने रूप धरा महामाया
उसी रूप का मैं दर्शन चाहूँ

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

रक्तबीज मधु कै सब मारे
अपने भक्तों के काज सँवारे
मैं भी तेरा दास कहाऊं

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

आरती तेरी करू वरदाती।
हृदय का दीपक, नैयनो की बाति
निसदिन प्रेम की ज्योति जगाऊ

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

ध्यानु भक्त तुमरा यश गाया
जिस ध्याया माता, फल पाया
मैं भी दर तेरे सीस झुकाऊं

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

आरती तेरी जो कोई गावे
चमन सभी सुख सम्पति पावे
मैया चरण कमल रज चाहूँ

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

तुम बिन कौन सुने वरदाती
किस को जाकर विनय सुनाऊं

आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं
आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

Read Also- यह भी जानें (All information)

Leave a Reply

Your email address will not be published.