Skip to content
Home » घनश्याम तेरी बंसी पागल | Ghanshyam teri bansi lyrics

घनश्याम तेरी बंसी पागल | Ghanshyam teri bansi lyrics

घनश्याम तेरी बंसी पागल | Ghanshyam teri bansi lyrics :->घनश्याम तेरी बंशी पागल कर जाती है ॥ Prem Mehra || Popular Shri Krishna Bhajan # Ambey Bhakti

Album : Pathar Ki Radha Pyari
Video – Ghanshyam Teri Banshi
Singer – Prem Mehra
Music : Yogesh Kumar
Lyrics : Prem Mehra
Parent Label(Publisher) – Shubham Audio Video Private Limited.
Camera – Bhagwan Das
Editor – Arvind Kumar

घनश्याम तेरी बंसी पागल | Ghanshyam teri bansi lyrics

घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है
मुस्कान तेरी मोहन घायल कर जाती है….

सोने की होती तो क्या करते तुम मोहन
ये बांस की होकर भी दुनियां को नचाती है.
घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है
मुस्कान तेरी मोहन घायल कर जाती है….

तुम गोरे होते जो क्या कर जाते मोहन
जब काले रंग पे ही दुनियाँ मर जाती है
घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है
मुस्कान तेरी मोहन घायल कर जाती है….

दुख दर्दों को सहना बंसी ने सिखाया है
और छेद हैं सीने में फिर भी मुस्काती है
घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है
मुस्कान तेरी मोहन घायल कर जाती है….

कभी रास रचाते हो कभी बंसी बजाते हो
कभी माखन खाने की मन में आ जाती है
घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है
मुस्कान तेरी मोहन घायल कर जाती है….

जय गोविंदा जय गोपाला
मुरली मनोहर मुरली वाला।

Must Read below

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *