Skip to content
Home » राम धुन लागि | Ram Dhun Lagi

राम धुन लागि | Ram Dhun Lagi

राम धुन लागि | Ram Dhun Lagi :->जिसे राम धुन लग जाए वही सबसे बड़ा धनी है, राम नाम जप से बड़ा कोई तप नहीं, राम भक्ति से बड़ी कोई उपलब्धि नहीं और राम जी की कृपा से बड़ा कोई धन नहीं।

राम धुन लागि | Ram Dhun Lagi

Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhunn Lagi
Man Hamara Hua
Ram Ram Ji Ka Sua
Bole Ram Ram
Harpal Ram Ram
Nishdin Ram Ram
Jai Shri Ram Ram
Hey Ram Hi Ram Rate Bairagi
Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhunn Lagi ॥

Bin Karan Roye Hanse
Ajab Hamara Haal
Hum Gaate Hai Ram Dhun
Duniya Deti Taal
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram ॥

Ram Raspaan Kar
Man Ram Ka Bhrmar
Gaye Ram Ramharapal Ram Ram
Nishdin Ram Ram
Jai Shri Ram Ram
Hey Ram Suman Man Bhramar Badbhagi
Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhunn Lagi
Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhunn Lagi ॥

Badi Chaturai Se Kevat Ne
Charanamrit Ka Paan Kiya
Charan Dhool Ne Shraapit Naari
Ahilya Ka Kalyan Kiya
Ram Naam Jin Par Likha
Tar Gaye Ve Paashan
Ram Bhakt Hanuman Ke
Ram Hi Jeevan Pran
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram ॥

Gurujan Ki Aagya Shish Dhari
Pitr Vachanon Ka Satkar Kiya
Bhilani Ko Diye Darshan Prabhu Ne
Nij Bhakto Se Sada Pyaar Kiya
Dashrath Soot Ne Dashmi Ko
Dashmukh Ravan Ka Sanhaar Kiya
Jise Maar Diya Use Taar Diya
Avatar Dhare Upkar Kiya
Sitaar Ke Taaro Mein Jhankrt
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram
Murli Ki Taano Mein Mukhrit
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram
Shiv Shankar Ka Damru Bole
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram
Shri Ram Jai Ram Jai Jai Ram ॥

Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhunn Lagi
Man Hamara Hua
Ram Ram Ji Ka Sua
Bole Ram Ram
Harapal Ram Ram
Nishadin Ram Ram
Jai Shri Ram Ram
Hey Ram Hi Ram Rate Bairagi
Ram Dhunn Lagi Shri Ram Dhun Lagi ॥

Ram Dhun Lagi in hindi

राम धुन लगी श्री राम धुन लगी
मन हमारा हुआ
राम राम जी का सूआ
बोले राम राम
हरपाल राम राम
निष्दीन राम राम
जय श्री राम राम
हे राम ही राम दर बैरागी
राम धुन लगी श्री राम धुन लगी॥

बिन करण रोये हंसे
अजब हमारा हाल
हम गाते हैं राम धुन
दुनिया देती ताल
श्री राम जय राम जय जय राम
श्री राम जय राम जय जय राम॥

राम रसपान कर
मन राम का भ्रमर
गाये राम रामहरपाल राम राम
निष्दीन राम राम
जय श्री राम राम
हे राम सुमन मन भ्रमर बड़भागी
राम धुन लगी श्री राम धुन लगी
राम धुन लगी श्री राम धुन लगी॥

बड़ी चतुराई से केवट ने
चरणामृत का पान किया
चरण धूल ने श्रापित नारी
अहिल्या का कल्याण किया
राम नाम जिन पर लिखा
तार गए वे पासन
राम भक्त हनुमान के
राम ही जीवन प्राण
श्री राम जय राम जय जय राम
श्री राम जय राम जय जय राम॥

गुरुजन की आज्ञा शीश धारी
पितृ वचनों का सतकार किया
भीलनी को दिए दर्शन प्रभु ने
निज भक्तो से सदा प्यार किया
दशरथ सूत ने दशमी को
दशमुख रावण का संहार किया
जिसे मार दिया तार दिया का प्रयोग करें
अवतार धरे उपकार किया
सितार के तारों में झंकृत
श्री राम जय राम जय जय राम
मुरली की तानो में मुखरित
श्री राम जय राम जय जय राम
शिव शंकर का डमरू बोले
श्री राम जय राम जय जय राम
श्री राम जय राम जय जय राम॥

राम धुन लगी श्री राम धुन लगी
मन हमारा हुआ
राम राम जी का सूआ
बोले राम राम
हरपाल राम राम
निशादीन राम राम
जय श्री राम राम
हे राम ही राम दर बैरागी
राम धुन लगी श्री राम धुन लगी॥

Read also

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *