Skip to content
Home » Baba Balak Nath Bhajan|Sidh Jogi De Dware Lyrics

Baba Balak Nath Bhajan|Sidh Jogi De Dware Lyrics

  • May 29, 2021May 29, 2021
  • Bhajan
Baba_Balak_Nath_Bhajan|Sidh_Jogi_De_Dware_Lyrics

जय जोगी,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे,
देखे बड़े बड़े,
देखे, आम नचदे,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
पौणाहारी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे।

गुफा विच रहन्दा,
डेरा सात लाइयाँ ए,
आंदे नचदे ने सारे,
जदो जोगी तू बुलाया है,
आंदे नचदे ने सारे,
जदो जोगी तू बुलाया है,
जगा ढोल उते ढोल लौना,
सारे नचदे,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे।
मेरे बाबे दे द्वारे,
सुबह शाम नचदे।

करम कमान्दा,
जो सारे संसार ते,
भरदा ए पल्ले जोगी,
जिंदगी संवार दे,
ओ जो लगिया ही रहन जेड़े,
नाम जपदे,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे।
मेरे बाबे दे द्वारे,
सुबह शाम नचदे।

दुःख दरदा दा दारु,
तू ही मेरा सिद्ध जोगी,
ताहि सन्नी लुधियाना वाळा,
तेरा दा रोगी है,
गांवदा सचिन भेंट जो भी,
कंठ बसदे,
सिद्ध जोगी के द्वारे,
सुबह शाम नचदे।
मेरे बाबे दे द्वारे,
सुबह शाम नचदे।

Baba Balak Nath Bhajan|Sidh Jogi De Dware Lyrics

Read Also- यह भी जानें

Leave a Reply

Your email address will not be published.