Skip to content
Home » Teri mand mand muskaniya pe lyrics( श्याम का एक अद्भुत भजन)

Teri mand mand muskaniya pe lyrics( श्याम का एक अद्भुत भजन)

तेरी मंद मंद मुसुकनिया पे बलिहार प्यारे | Teri mand mand muskaniya pe lyrics :->श्री बांके बिहारी की सदैव भक्तों पर कृपा रहती है इनकी कृपा कर भक्त मोहमाया आदि बंधनों से छुटकारा पा लेता है फिर उसे अपने प्रभु के सिवा और कोई नजर नहीं आता कृष्ण जी के बाल स्वरूप की पूजा करने पर माना जाता है अध्यात्म रूप से व्यक्ति सुख की अनुभूति करता है अतः लोगों को बांके बिहारी के बाल रूप की आराधना करनी चाहिए

तेरी मंद मंद मुसुकनिया पे बलिहार प्यारे | Teri mand mand muskaniya pe lyrics

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू
तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे बाल बड़े घुंगराले
बादल जो कारे कारे
तेरी मोर मुकट लटकनिया पे
बलिहार संवारे जू

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरी चाल अजब मतवाली
लगती है प्यारी-प्यारी
तेरी पायल की झंकार पे
बलिहार संवारे जू

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे संग में राधा प्यारी
लगती है सबसे नियारी
इस युगल छवि पे मे जाऊ
बलिहार संवारे जू

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे नयन बड़े मतवारे
मटके है कारे कारे
तेरी तिरछी सी चितवनिया पे
बलिहार संवारे जू

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू *
तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू *

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे बाल बड़े घुंगराले
बादल जो कारे कारे *
तेरी मोर मुकट लटकनिया पे
बलिहार संवारे जू *

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरी चाल अजब मतवाली
लगती है प्यारी-प्यारी *
तेरी पायल की झंकार पे
बलिहार संवारे जू *

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे संग में राधा प्यारी
लगती है सबसे नियारी *
इस युगल छवि पे मे जाऊ
बलिहार संवारे जू *

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

तेरे नयन बड़े मतवारे
मटके है कारे कारे *
तेरी तिरछी सी चितवनिया पे
बलिहार संवारे जू *

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे
बलिहार संवारे जू **

Teri mand mand muskaniya pe Pdf

Read also

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *