Skip to content
Home » श्री योगमाया मंदिर

श्री योगमाया मंदिर

  • Mandir
श्री_योगमाया_मंदिर

श्री योगमाया मंदिर :->यह शक्तिपीठ दिल्ली के महरौली में स्थापित है| प्राचीनता की दृष्टि से यह दिल्ली का सबसे पुराना मंदिर माना जाता है |

श्री योगमाया मंदिर | Shree Yogmaya Mandir |समशक्तिपीठ

इसकी स्थापना पांडवों के काल में हुई थी। समय-समय पर इस मंदिर को हिंदू राजाओं का संरक्षण मिलता रहा |यह मंदिर पृथ्वीराज के राजमहल के निकट था| पृथ्वीराज रासो के अनुसार दिल्ली का नाम ही जोगनीपूर या योगिनीपुर था |योग माया या योगकन्या कृष्ण की बहन थी|

जिसे कंस ने मारने का प्रयास किया था |महरौली के निकट स्थित इस मंदिर में समय-समय पर अन्य भवन भी बनते रहे| इसका सार्वजनिक महत्व” फूल वालों की सैर” उत्सव के पुनरुत्थान से और बढ़ गया |अब यह हिंदू-मु स्लिम एकता के रूप में कड़ी का काम कर रहा है|

यहां देवी के नाम पर नगर के नाम की परंपरा मुंबई कोलकाता से मेल खाती है |मंदिर प्रांगण में एक छोटा सा शिव मंदिर है |

मंदिर में शिव परिवार के साथ 6 इंच ऊंचा भूरे रंग का शिवलिंग स्थापित है| प्रतिवर्ष 5 से 6 लाख भकत दर्शन करते हैं| मंदिर का क्षेत्रफल 90 मीटर है।

दिशा :-

Read Also- यह भी जानें

Leave a Reply

Your email address will not be published.