Skip to content
Home » बाँस की बाँसुरिया पे घणों | Baans Ki Basuriya Pe Ghano Itrave Lyrics

बाँस की बाँसुरिया पे घणों | Baans Ki Basuriya Pe Ghano Itrave Lyrics

बाँस की बाँसुरिया पे घणों | Baans Ki Basuriya Pe Ghano Itrave Lyrics :-> कृपया ऐसे भजन के अपने  अपने परिवार और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें धन्यवाद

बाँस की बाँसुरिया पे घणों | Baans Ki Basuriya Pe Ghano Itrave Lyrics

बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*
बाँस की बाँसुरिया पे घणों इतरावे* कोई सोना की जो होती*
हीरा मोत्यां की जो होती* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

जेल में जनम लेके घणों इतरावे* कोई महालाँ में जो होतो*
कोई अंगणां में जो होतो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

देवकी रे जनम लेके घणो इतरावे* कोई यशोदा के होतो*
माँ यशोदा के जो होतो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

गाय को ग्वालो होके घणो इतरावे* कोई गुरुकुल में जो होतो*
कोई विद्यालय जो होतो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

गुजरियाँ की छोरियाँ पे घणों इतरावे* ब्राह्मण बाणिया की जो होती*
ब्राह्मण बणियाँ की होती जो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

साँवली सुरतिया पे घणों इतरावे* कोई ग़ौरो सो जो होतो*
कोई सोणो सो जो होतो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

माखन मिश्री पे कान्हा घणो इतरावे* छप्पन भोग जो होतो*
मावा मिश्री जो होतो* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

बाँस की बाँसुरिया पे घणो इतरावे* कोई सोना की जो होती*
हीरा मोत्या की जो होती* जाणें काई करतो* काईं करतों*
बाँस की बाँसुरिया पे* घणों इतरावे*

Read also

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *