Home » Aarti » Page 2

Aarti

Aarti

माँ_बगलामुखी_आरती_Maa_Baglamukhi_Aarti_lyrics

माँ बगलामुखी आरती Maa Baglamukhi Aarti lyrics

  • Aarti

माँ बगलामुखी आरती Maa Baglamukhi Aarti lyrics–माँ बगलामुखी दस महाविद्या में से एक है ! माँ बगुला पक्षी की सवारी करते है जोह की एक ज्ञान का भी प्रतिक है… Read More »माँ बगलामुखी आरती Maa Baglamukhi Aarti lyrics

जय_शिव_ओंकारा_Jai_Shiv_Omkara_Aarti_lyrics

जय शिव ओंकारा Jai Shiv Omkara Aarti lyrics

  • Aarti

जय शिव ओंकारा Jai Shiv Omkara Aarti lyrics-भगवान शिव जी की आरती भगवान शिव को अति प्रिय है ! भगवान भोलेनाथ के भक्त इस हे आरती का प्रतिरोज़ गायन करते… Read More »जय शिव ओंकारा Jai Shiv Omkara Aarti lyrics

गणेश_जी_की_आरती_Ganesh_Ji_Ki_Aarti_lyrics

Ganesh Chaturthi 2021 :गणेश जी की आरती

  • Aarti

Ganesh Chaturthi 2021 :गणेश जी की आरती —गणेश जी प्रथम पूजय के नाम से जानें जाते है भगवान गणेश विघ्नहर्ता और सरब कर्य सिद्ध करता भी है भगवान गणेश के… Read More »Ganesh Chaturthi 2021 :गणेश जी की आरती

जय_अम्बे_गौरी_|jai_ambe_gauri_lyrics

जय अम्बे गौरी | jai ambe gauri lyrics lyrics

  • Aarti

जय अम्बे गौरी | jai ambe gauri lyrics lyrics –>माँ दुर्गा के भारत में अनेक नामो से प्रसिद्ध है जैसे की शक्ति ,भवानी ,भगवती ,अम्बे ,जगदम्बे आदि ! माँ दुर्गा… Read More »जय अम्बे गौरी | jai ambe gauri lyrics lyrics

Hanuman_Ashtak_lyrics

हनुमान जी की आरती Hanuman ji ki aarti lyrics

  • Aarti

हनुमान जी की आरती Hanuman ji ki aarti lyrics- हनुमान जी के समक्ष यह आरती गाहने से हनुमान जी अति पर्सन होते है यह आरती हनुमान जी के मंदिर स्थलों… Read More »हनुमान जी की आरती Hanuman ji ki aarti lyrics

जय_सन्तोषी_माता_आरती_Jai_Santoshi_Mata_Aarti

जय सन्तोषी माता आरती Jai Santoshi Mata Aarti lyrics

  • Aarti

जय सन्तोषी माता आरती Jai Santoshi Mata Aarti lyrics — संतोषी माँ संतुष्टि की माँ के रूप में सम्मानित किया जाता है, उसके नाम का अर्थ है लगातार 16 शुक्रवार… Read More »जय सन्तोषी माता आरती Jai Santoshi Mata Aarti lyrics

जय जगदीश हरे आरती Om_ Jai_Jagdish_Hare_aarti _

जय जगदीश हरे आरती Om Jai Jagdish Hare aarti lyrics

  • Aarti

जय जगदीश हरे आरती Om Jai Jagdish Hare aarti lyrics—यह आरती पं. श्रद्धाराम फिल्लौरी द्वारा सन् 1870 में लिखी गई थी! इस आरती भागवान विष्णु की स्तुति की गई है… Read More »जय जगदीश हरे आरती Om Jai Jagdish Hare aarti lyrics